प्रशासन ने बुजुर्ग विधवा का दुकान का कब्जा दिलाया, 22 साल से लड़ रही थी अपने हक़ की लड़ाई

मध्यप्रदेश की आर्थिक नगरी इंदौर में कलेक्टर की पहल से 22 साल तक रहे दूकान पर कब्जे को पुरुषोत्तम से लेकर पीड़ित विधवा बुजुर्ग महिला को वापस दिलाया गया है वही आपको बता दे की मामले में विधवा महिला की दूकान किराए से पुरुषोत्तम नामक व्यक्ति को दी गई थी जिसने 22 तक कब्ज़ा किया दरअसल आड़ा बाजार में रहने वाले प्रभाकर महादिक ने अपना परिवार चलाने के लिए अपने मकान के अगले हिस्से में स्थित दुकान को पुरुषोत्तम नामक व्यक्ति को किराए पर दी थी लेकिन उसके बाद व्यक्ति ना तो किराया दे रहा था,और ना ही अपनी दुकान खाली कर रहा था इसके बाद प्रभाकर ने इसके विरुद्ध 24 साल पहले अपनी लड़ाई शुरू की, व्यक्ति के निधन के बाद उनकी पत्नी यह लड़ाई लड़ रही थी, जिसकी शिकायत विधवा महिला ने कलेक्टर को भी की थी। कलेक्टर ने इस शिकायत पर कार्रवाई करते हुए पीड़ित महिला को उनकी दुकान का कब्ज़ा वापस से दिलवाया, साथ ही कब्जे दार पुरुषोत्तम पर आगे की कार्रवाई भी की जा रही है,

Khabar Madhya Pradesh